Handicrafts Corporate Gifting

आज कल हैंडीक्राफ्ट को प्रमोशन गिफ़्ट में भी लिया जा रहा है। इसमें वुड और मेटल के प्रोडक्ट्स अधिक चुने जाते हैं।इसके साथ साथ फ़ाइबर के मोल्ड की भी डिमांड बढ़ रही है।
तो चलिए आज मैं शिल्पा शर्मा आपको हैंडीक्राफ्ट कॉर्पोरेट गिफ्टिंग की पूरी जानकारी देती हूँ !ज़्यादातर कॉर्पोरेट में वही हैंडीक्राफ्ट लेते हैं जिसमें कंपनी का ब्रांड नेम लगाया गया हो।बड़ी कंपनियाँ अपने ब्रांड प्रमोशन के लिए बहुत ज़्यादा संख्या में गिफ्ट ख़रीदना पसंद करती हैं। ज़्यादातर 50 रुपये से लेकर 250 रुपये तक कीमत वाले प्रोडक्ट्स की डिमांड होती है। ज़्यादातर तो फ़ार्मा कंपनियाँ ही डॉक्टरों को गिफ़्ट देने के लिए ये प्रोडक्ट्स खरीदती हैं लेकिन फ़ार्मा कंपनी के अलावा बैंक, इंश्योरेंस कंपनी , IT कंपनी भी भारी मात्रा में ख़रीद करती हैं। आमतौर पर देखा जाए तो कम दाम के हैंडीक्राफ्ट की डिमांड अधिक रहती है।

आप सोच रहे होंगे कि ऐसे कौन से हैंडीक्राफ्ट बनाए या ख़रीदे जाएँ जो कि इन कंपनियों को पसंद आयें ?
सोशल मीडिया के चलते प्रिंट मीडिया की डिमांड कम हो गई है। सभी कंपनियाँ अपनी ख़बरें फ़ेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन ,यूट्यूब, टी.वी. न्यूज़ चैनल्स आदि के माध्यम से पहुँचा रही हैं। अपने टारगेट ऑडियंस तक अपने ब्रांड को पहुँचाना किसी कॉम्पिटिशन से कम नहीं है।इसलिए सभी कंपनियां अपने ब्रांड को लोगों के दिमाग़ में हाइलाइट करने के लिए कम रेंज के प्रोडक्ट्स को रिटर्न गिफ़्ट के तौर पर इन्वेस्ट करना पसंद करती हैं।

आईए अब जानते हैं कि वो कौन से प्रोडक्ट्स हैं जो कॉरपोरेट गिफ्टिंग की डिमांड में हैं।
1)डेस्क आइटम:डेस्क आइटम में पेन स्टेंड ,मोबाइल स्टेंड विज़िटिंग कार्ड होल्डर ,कैलेंडर्स ,टी-कोस्टर मैग्ज़ीन होल्डर , टेबल क्लॉक,कॉफी मग आदि की बहुत अधिक डिमांड होती है।
2) वॉल हैंगिंग आइटम: वॉल हैंगिंग में कैलेंडर , की-होल्डर, दीवाल घड़ी आदि की अधिक डिमांड होती है।
3) यूटिलिटी आइटम: यूटिलिटी आइटम में डायरीज़ ,ड्राई फ्रूट्स बॉक्स, ड्राइफ्रूट्स बैग आदि

हैंडीक्राफ्ट मार्केट में कम रेंज की वैरायटी प्रोडक्ट कम देखने को मिलते हैं इसलिए भी मजबूरन बड़ी कम्पनियों को FMCG और चाइना के प्रोडक्ट्स लेने पड़ते हैं।अब समय आ गया है कि हैंडीक्राफ्ट कलाकार विभिन्न प्रकार के छोटे हैंडीक्राफ्ट आइटम बनाएं जो मार्केट में ब्रांड नेम के साथ नई डिमांड ला सकें।अब कारीगरों को सोचना पड़ेगा होगा कि छोटे प्रोडक्ट बनाकर प्रोडक्शन यूनिट को व्यवस्थित किया जाए ताकि हैंडीक्राफ्ट मार्केट में क्रांति आए और छोटे छोटे गांवों के कारीगरों को भरपूर काम मिले।

भारत सरकार को भी मेरा यह सुझाव है कि हैंडीक्राफ्ट कॉर्पोरेट गिफ्टिंग की मार्केट को बढ़ावा देने के लिए सरकार अपनी ज़िम्मेदारी निभाए!

-Shilpa M Sharma

9 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

  1. आपने बहुत ही महत्वपूर्ण विषय को लिया है। हैंडीक्राफ्ट न केवल भारत का बल्कि पूरे विश्व का एक बहुत बड़ा व्यवसाय है। अगर भारत सरकार इस पर थोड़ा सा भी ध्यान केंद्रित करे तो इस क्षेत्र में बहुत बड़ा जादू हो सकता है, चमत्कार हो सकता है। भारत की हैंडीक्राफ्ट्स प्रतिभा को बढ़ावा देना सरकार का कर्तव्य है। इससे बहुत सारे लोगों की रोज़ी रोटी के अलावा देश का निर्यात बढ़ाया जा सकता है। शिल्पा शर्मा,आपका इस क्षेत्र में बहुत बड़ा योगदान हो सकता है।